Saturday, September 24, 2022
Home2 Line ShayariFunny Shayari, Hindi SMS Jokes, Shayari, New Funny ...

Funny Shayari, Hindi SMS Jokes, Shayari, New Funny …

 
 
ऐसी वाणी बोलिये कि सब से झगडा होए;ऐसी वाणी बोलिये कि सब से झगडा होए;पर उस से झगडा ना करें जो आप से तगड़ा होए!
 
हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे;अर्ज़ किया है;हम भी जान-ए-मन तेरे लिए ताजमहल बनायेंगे;एक कप सुबह पिलायेंगे और एक कप शाम को पिलायेंगे!
 
 
हमेशा ज़िन्दगी में मुस्कुराते रहो;हर इंसान को अपना बनाते रहो;जब तक कोई कार वाली ना बने तुम्हारी गर्लफ्रेंड;तब तक स्कूटर वाली से ही काम चलाते रहो!
 
 
पी लेंगे तुम्हारा हर एक आंसू;कभी अपनी महफ़िल में बैठाकर तो देखो;भाभी कहोगे तुम अपनी गर्लफ्रेंड को;कभी हमसे मिलाकर तो देखो!
 
 
 
मुस्कुरा कर लडको को पागल बनाना तो हसीनो की इक अदा है;अर्ज़ किया है; मुस्कुरा कर लडको को पागल बनाना तो हसीनो की इक अदा है;और जो कमबख्त उसे मोहब्बत समझे वो सबसे बड़ा गधा है!
 
 
क्या हुआ जो उसने रचा ली मेहँदी;हम भी अब सेहरा सजायेंगे;तो क्या हुआ अगर वो हमारे नसीब में नहीं;अब हम उसकी छोटी बहन पटायेंगे!
 
 
मैं अपने घर गया वो अपने घर गयी;फिर मुझको क्या खबर कि वहां से वो किधर गयी!
 
 
लिखना पढ़ना छोड़ दे बन्दे नेकियों पर रख आस;चादर उठा और आराम से सो जा भगवान् करेंगे पास!
 
 
क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम;अर्ज किया है;क्या सुनाएँ हम आपको दास्ताँ-ए-गम;जब से आप मिले हो परेशान हो गए हैं हम!
 
 
चूल्हे पे रखा तवा गर्म है;वाह-वाह;चूल्हे पे रखा तवा गर्म है;आज कल की लड़कियों से ज़्यादा तो लड़कों में शर्म है!
 
 
तेरी गलतियों को माफ़ कौन करता;मैं ना रहता तो तुझसे इन्साफ कौन करता;शुक्र है खुदा ने सलामत रखा मेरे दोस्त को;वरना मेरी शादी में जूठी प्लेटें साफ़ कौन करता!
 
 
सितम ढाने की हद होती है;पास ना आने की रूठ जाने की हद होती है;एक SMS तो कर दे जालिम;पैसे बचाने की भी हद होती है!
 
 
आज तुम पे आंसुओं की बरसात होगी;फिर वही कड़कती रात होगी;SMS ना करके तूने दिल दुखाया है मेरा;जा तेरे बदन में खुजली सारी रात होगी!
 
 
तेरे बारे में सोचा तो मुझे एक ख्याल आया;तुझे मैंने दोस्त बना के ज़िन्दगी में क्या पाया;बाकी बातों को तो तू मार गोली;पहले ये बता तूने पड़ोस वाली आइटम को कैसे पटाया!
 
 
प्यार का गीत गायेंगे हम;तुझसे मोहब्बत निभायेंगे हम;जो तूने कबूल कर लिया प्यार मेरा तो ठीक;वरना किसी और हसीना को पटायेंगे हम!
 
जब तू होती थी मेरी ज़िन्दगी में तो तेरे मेरे इश्क के चर्चे बहुत थे;अच्छा ही हुआ ज़िन्दगी से चली गयी तू क्योंकि तेरे खर्चे ही बहुत थे!
 
 
हम दुआ करते हैं खुदा से;कि वो आप जैसा दोस्त और ना बनाए;एक कार्टून जैसी चीज़ जो हमारे पास है;कहीं वो भी कॉमन ना हो जाए!
 
 
मैंने चाहा तुझे अबला समझ कर;मैंने चाहा तुझे अबला समझ कर;तेरे बाप ने पीट दिया मुझे तबला समझ कर।
 
 
वो मेरी किस्मत मेरी तक़दीर हो गई;हमने उनकी याद में इतने ख़त लिखे कि;वो रद्दी बेचकर अमीर हो गई।
 
 
वो कहती थी कि मैं तुम्हारी जिन्दगी को जन्नत;बना दूंगी, बनानी तो उसे मैगी भी नहीं आती थी;लेकिन मैडम का आत्मविश्वास तो देखो।
 
 
पानी आने की बात करते हो;दिल जलाने की बात करते हो;चार दिन से मुंह नहीं धोया;तुम नहाने की बात करते हो।
 
 
बारिश का मौसम बहुत तडपता है;उनकी याद हैं जिन्हें दिल चाहता है;लेकिन वो आए भी तो कैसे;ना उनके पास रैन कोट है और ना छाता है।
 
 
हवा का झोंका आया;तेरी खुसबू साथ लाया;मैं समझ गई कि तू आज फिर नहीं नहाया।
 
 
कोई आँखों से बात कर लेता है;कोई आँखों में बात कर लेता है;बडा मुश्किल होता हैं जवाब देना यारों;जब कोई इंग्लिश में बात कर लेता है।
 
 
अर्ज़ किया है..लड़की रो रो के लड़के से कह रही है..वाह! वाह!!लड़की रो रो के लड़के से कह रही है..हाथ छोड़ दे कमीने नाक बह रही है।
 
अर्ज किया है,ए सुनामी जरुरत नहीं तेरी इन;खौफ़नाक लहरों की;जिंदगी में खौफ़ लाने के लिए;तो घरवाली ही काफी है।
 
 
 
बहुत खूबसूरत हो तुम;खुद को दुनिया की बुरी नज़रों से बचाया करो;सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं;गले में नींबू, मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो
 
जिस वक्त खुदा ने तुम्हे बनाया होगा,एक शुरूर सा उसके दिल पे छाया होगा….पहले सोचा होगा तुझे जन्नत में रख लूँ…फ़िर उसे ज़ू का ख्याल आया होगा!!
 
कोई तो बुक ऐसी मिलती जिस पे दिल लुटा देते;हर सब्जेक्ट ने दिमाग़ खाया किसी एक को निपटा देते;अब सेलेबस देख कर ये सोचते हैं कि;एक महीना ओर होता तो दुनिया हिला देते।
 
 
उम्र की राह में जज्बात बदल जाते है;वक़्त की आंधी में हालात बदल जाते है;सोचता हूँ कि काम कर-कर के रिकॉर्ड तोड़ दूँ;पर ऑफिस आते आते ख़यालात बदल जाते है।
 
 
मोहब्बत का सफर लंबा हुआ​;​​​तो क्या हुआ, थोड़ा तुम चलो​;​थोड़ा हम चले, थोड़ा तुम चलो;​​थोड़ा हम चले, फिर रिक्शा कर लेंगे।
 
 
 
धोती ने कहा पज़ामे से;हम दोनों बने हैं धागे से;फर्क तो सिर्फ इतना है कि;मैं खुलता हूँ पीछे से और;तुम खुलते हो आगे से।
 
 
 
“””ताज महल”””” बनाया तो कौन सा पहाड़ गिराया, आखिर “”””शाह जहां”””” बड़ी हस्ती थी;अरे, ताज महल तो हम भी बनवा देते, लेकिन हमारी मुमताज ही गश्ती थी!
 
 
 
 
मोहब्बत करने वालों को इनकार अच्छा नहीं लगता;दुनिया वालों को ये इक़रार अच्छा नहीं लगता;जब तक लड़का-लड़की भाग ना जाएँ;सालों को प्यार सच्चा नहीं लगता।
 
 
एक कवि गरीबी से तंग आकर डाकू बन गया, डकैती करने एक बैंक गया और बोला: अर्ज हैतकदीर में जो है वही मिलेगा,हैंड्स अप कोई अपनी जगह से नहीं हिलेगा.फिर कैशियर के पास गया और बोला:कुछ ख्वाब मेरी आंखों से निकाल दो,जो कुछ भी तुम्हारे पास है जल्दी से इस बैग में डाल दो.बहुत कोशिश करता हूं तेरी याद भुलाने की,कोई कोशिश नहीं करें पुलिस को बुलाने की.भुला दे मुझको क्या जाता है तेरा,मैं गोली मार दुंगा, जो किसी ने पीछा किया मेरा.
 
 
 
बाहों में चले आआआआओ…मेंटॉस खाओ, दिमाग की बत्ती जलाओ.
 
 
भगवान के लिए मुझे छोड़ दो,दया, यह दरवाजा तोड़ दो.
 
 
खरबूजे को देखकर खरबूजा रंग बदलता है,कोई यह क्यों नहीं बताता, महेश भट्ट इतना सिर क्यों खुजाता है?
 
लैला ने मजनू को किया किस,म्यूचुअल फंड्स आर सब्जेक्टेड टु मार्केट रिस्क.
 
 
 
तू निकले तो ठीक लगे,तेरा बाप निकले तो मुझे बीक लगे,और जब आए पोलिसवाले की जीप,मेरे स्कूटर की किक लगे.
 
याद रखना मेरी दोस्ती को तुम,तेरी ज़िंदगी पर एक एहसान कर दिया,इस मोबाइल मे एक आखरी रूपिया था,मैने वो भी तेरे नाम कर दिया.
 
 
 
चंपा के दस फुल, चमेली की एक कली,मुरख की सारी रात, चतुर की एक घडी.
 
 
कोलेज की गलियो में अजीब खेल होता है,क्लास के बहाने दिलो का मेल होता है,नोट्स की जगह लव होता है,इस लिए तो पप्पू हर साल फेल होता है.
 
 
चाई में से उढ़ते धुवे में तेरी तस्वीर नज़र आती है,और इन्ही खयालो में अक्सर चाई ढंडी हो जाती है.
 
 
तेरी जुल्फों में खो जाना चाहता हूँ,तेरी जुल्फों में खो जाना चाहता हूँ,…पर तू तेल इतना लगाती हो के फिशल जाता हूँ.
 
 
तेरे प्यार की रौशनी ऐसी है की हर तरफ उजाला नज़र आता है, सोचती हूँ घर के बिजली कटवा दू कमबख्त बिल बहोत आता है.
 
 
दिल की बात दिल में मत रखना,जो पसंद हो उससे आइ लव यू कहना,अगर वो गुस्से में आ जाए तो डरना मत,राखी निकाल ना और कहना प्यारी बहना मिलती रहना.
 
 
 
गुल गई गुलशन गई, गई होंठो की लाली,अब तो मेरा पीछा छोड़, तू हो गई बचो वाली.
 
 
ना इश्क़ कर मेरे यार यह लड़किया बहुत सताती है,ना करना इन पर ऐतबार यह खर्चा बहुत करवाती है,रीचार्ज तुम करवा के देते हो और नंबर मेरा लगाती है.
 
 
चेतावनी:अगर आपको कोई अनजान पार्सल मिले तो उसे ना खोलें उसमें मेरी फोटो हो सकती है,और आपकी जरा सी लपरवाही आपको मेरा दीवाना बना सकती है.
 
 
ख़त लिखा है खून से साही मत समज लेनाआशिक हु में तेरा भाई मत समज लेना.
 
 
 
अर्ज़ किया है:
खुदा बचाये हमें इन हसीनो से;
वाह वाह
खुदा बचाये हमें इन हसीनो से;
लेकिन इन हसीनो को कौन बचाये, हम जैसे कमीनो se
 
 
 
तेरी दुनिया में कोई गम ना हो;
तेरी खुशियाँ कभी कम न हो;
भगवान तुझे ऐसी आइटम दे;
जो अग्निपथ की चिकनी चमेली से कम ना हो.
 
 
 
कैसे मुमकिन था किसी और दवा से इलाज़?
अय ग़ालिबइश्क का रोग था;
माँ की चप्पल से ही आराम आया
 
आंसू टपक पड़े बेरोजगार के उस एहसास पर ग़ालिब;
कि आंसू टपक पड़े बेरोजगार के उस एहसास पर ग़ालिब;
जब माँ ने कहा;बेटा खाली बैठा है,
 जा मटर ही छील ले.
 
 
 
अय दोस्त मत कर इन हसीनाओं से मोहब्बत;
वह आँखों और बातों से वार करती हैं;
मैंने तेरी वाली की आँखों में देखा है;
वो मुझसे भी प्यार करती है.
 
 
 
गिले शिकवे दिल से न लगा लेना,
कभी रूठ जाऊं तो मना लेना,
कल का क्या पता हम हो न हो,
इसलिए जब भी मिलूं,
कभी समोसा और कभी पानी पूरी खिला देना.
 
 
 
काला न कहो मेरे महबूब को;
काला न कहो मेरे महबूब को;
खुदा तो तिल ही बना रहा था;
पर प्याला ही लुढ़क गया.
 
 
कोई लड़की हमें ठुकरा दे तो गम नहीं,
 वाह वाह,कोई लड़की हमें ठुकरा दे तो गम नहीं,
वाह वाह,अरे डूब के मर जाए वो लड़की जिसकी किस्मत में हम नहीं.
 
 
 
 
“मेरी सांसो में जो समाया बहुत लगता है, वही शख्स मुझे पराया भी बहुत लगता है, उनसे मिलने की तमन्ना तो बहुत है मगर, आने-जाने में किराया ही बहुत लगता है”
 
 
 
 
“कोई आँखों से बात कर लेता है, कोई आँखों में मुलाक़ात कर लेता है, बड़ा मुश्किल होता है जवाब देना, जब कोई इंग्लिश में बात कर लेता है”
 
 
 
“भूल गए या, भुलाना चाहते हो, दूर कर दिया, या करना चाहते हो, अजमा लिया, या अजमाना चाहते हो, मेसेज कर रहे हो, या अभी और पैसे बचाना चाहते हो?”
 
 
“दिली तमन्ना है कि मैं भी अपनी पलकों पे बैठाऊँ तुझको, बस तू अपना वजन कम करले, तो मेरा काम आसान हो जाए”
 
 
“होठों को छुआ उसने तो, एहसास अब तक है, आंखे नम हुई तो सांसो में आग अब तक है, वक़्त गुजर गया, पर उसकी याद नही गई, क्या कहूं, ‘हरी मिर्च का स्वाद अब तक है’। “
 
 
“इतने कमज़ोर हुए तेरी जुदाई में, जरा गौर फर्रमाँइए, इतने कमज़ोर हुए तेरी जुदाई में, कि चींटी भी अब खींच ले जाती है ‘चारपाई’ से”
 
 
“फ़ोन के रिश्ते भी अजीब होते हैं, बैलेंस रखकर भी लोग गरीब होते हैं, खुद तो मैसेज करते नहीं, मुफ्त के मैसेज पढ़ने के शौक़ीन होते हैं”
 
 
“तुम्हारा हर मैसेज मेरे रोम रोम में गुदगुदी पैदा करता है, जब भी मैं पढता हूं, मेरा दिल जोर से धड़कता है, लेकिन क्या करें, कसूर तुम्हारा नहीं है, यह मोबाइल ही ‘वाईबरेशन मोड’ पर चलता है”
 
 
 
“हकीकत समझो या फसाना, अपना समझो या बेगाना, हमारा आपका है रिश्ता पुराना, इसलिये फर्ज था आपको बताना, ठंड शुरू हो गयी है,कृपया रोज मत नहाना.”
 
 
“बोतल छुपा दो कफ़न में मेरे, शमशान में पिया करूंगा, जब खुदा मांगेगा हिसाब, तो पैग बना कर दिया करूंगा”
 
 
 
“है आँसूओ मे डुबी मेरे प्यार की कहानी है, अंदर से बुढापा बहार से है जवानी, नजरो से तेरी नजरे कैसे मीलाऐ जानी, तेरी दाई आंख कानी मेरी बाई आंख कानी.”

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments